सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

नया चार्जर खुद बनाओ | बहुत आसान तरीके से

    दोस्तो आज के दौर में जितना आप सक्रिय रहोगे उतना ही आपके लिए फायदेमंद होगा। कोई भी काम हो आप उसमे दिल लगाकर करोगे तो आपको सफलता आज नहीं तो कल जरुर मिल सकती है पर अगर कुछ करोगे ही नहीं तो फिर क्या हो सकता है।
आज के समय में इंटरनेट से हम बहुत कुछ सीख सकते हैं वो भी घर बैठे। आज इंटरनेट सिर्फ मनोरंजन का साधन ही नहीं बल्कि व्यवसाय करने के लिए भी खूब काम आ रहा है।तो इंटरनेट की मदत से हम कुछ भी सीख सकते हैं। जैसे अगर आप बाजार से कोई इमर्जेंसी चार्जर लाइट्स खरिदते हैं तो आपको कम से कम 150 ₹ से 250 - 300₹ तक की नौरमल रेंज की आयेगी, और अगर आप इसी लाइट को खूद ही घर पर बनायें तो आपको लगभग 90 से 110 ₹ के खर्च में बन जायेगी। पर इससे पहले सवाल यह है कि आखिर सभी लोग थोड़ी इसे बना सकते हैं तो भाई अगर जानकारी नहीं है तो कोई भी नहीं बना सकता है और जानकारी हो तो बच्चा भी कुछ हद तक बना सकता है। 

         तो चलिए आज हम ऐसी ही लाईट बनाना सीखेंगे इस आर्टिकल में। लाईट बनाने के लिए हमें जो सामान चाहिए उसकी लिस्ट इस प्रकार हैं -

  1. बैटरी 3.7 से 4 वोल्टेज तक। 
  2. इन्डिकेटिंग L.E.D 2.5 से 3 वोल्टेज तक। 
  3. रेजिस्टेंस (प्रतिरोध) 1k ओम। 
  4. चार्जिंग पिन 
  5. डायोड (Diod -  in4007 ) 
  6. रेगुलेटर
  7.  टाई ( बैटरी बाँधने के लिए) या डबल टेप। 
  8. एक प्लास्टिक का बाक्स 
  9. 4 वोल्ट की L.E.D
  10. इनको जोड़ने के लिए एक सोल्डरिंग आयरन
  11. राँगा और 
  12. एक प्लास्टिक का बाक्स 



   एक इमर्जेंसी चार्जिंग लाईट बनाने के लिए  इन 11 प्रकार के सामानों की आवश्यकता होती है, जो ऊपर दिए गए हैं। अब बात करतें है कैसे और कहाँ - कहाँ कनेक्शन करना है। इसको आप निचे दिए गए चित्र में देखकर आसानी से समझ सकते हैं।



Emergency light wiring




 सबसे पहले हम चार्जिंग पिन से शुरु करते हैं।
  1. सबसे पहले चार्जिंग पिन के ऋण सिरे में से एक - एक तार बैट्री, इंडिकेटिग LED तथा 4 वोल्ट के बल्ब ऋण वाले सिरों में जोडिए।
  2. अब चार्जिंग पिन के धन सिरे में एक डायोड और एक 1K का प्रतिरोध जोड़ें।
  3. अब प्रतिरोध के दूसरे सिरें को इंडिकेटिग LED के धन सिरे में जोड़ दें।
  4. अब डायोड के दूसरे सिरे को रेगुलेटर के बायीं तरफ कनेक्शन कर दीजिए। 
  5. रेगुलेटर के दूसरे सिरे पर 4 वोल्टेज की LED को जोड़ दीजिए। 
  6. अब डायोड के दूसरे सिरे पर बैटरी के दूसरे यानी धन सिरे पर जोड़ देते हैं।



      अगर कोई सवाल हो कमेंट करके जरुर पूछें, हमें आपके सवालों का इंतज़ार है। धन्यवाद

टिप्पणियाँ

Popular Posts

दिशा पता करने के बेस्ट तरीके..

दु नियाँ के किसी भी कोने में जाओ आप हर जगह पर दिशा पता कर सकते हैं।  हमने यह आर्टिकल उपयोग करने के लिए बनाया है ऊम्मीद है आपके लिए उपयोगी साबित होगा। इस आर्टिकल को अन्त तक जरूर पढिएगा क्योंकि हमने इसमें लगभग सभी संभव तरिके बताएँ हैं जो आपको हर परिस्थितियों में दिशा पता करने के लिए काफी हो सकता है।    दिशा का पता करने से पहले हम दिशा के बारे कुछ अहम / आवश्यक जानकारी देने जा रहें हैं ताकि दिशा पता करना और आसान हो जाये |इसमे सबसे पहले जानतें हैं दिशा क्या है और इसका महत्व क्या है |    दिशा ( Direction  )  एक ऐसा मैप या साधन जो हमें उत्तर - दक्षिण , पूरब - पश्चिम , उपर - निचे और आगे - पीछे  इन सभी को प्रदर्शित करे दिशा कहलाता है | दिशा मुख्यतः चार प्रकार की हैं ( अगर उपर - निचे को छोड़दे तो ) लेकिन इनको अलग - अलग भागो  मैं बाँटे तो ये दश प्रकार की हो जाती  है | अगर हमें इन चारों के बीच की दिशाओं को बताना है तो चित्रानुसार बतायेंगे। जैसे हमें पश्चिम और उत्तर केे बीच की दिशा को बताना है तो हम उत्तर-पश्चिम  कहेेंगे। इसी तरह से बाकि सभी दिशाओं के बारे में हम कहेेंगे। घर बनाने

भिन्न का गुणा , भाग , जोड़ और घटना हल करना

ऊपर चित्र में एक वृत्त को तीन बराबर भागों में बाँटा गया है । अगर हम कहें कि इसमें से एक भाग किसी को दे दिया जाये तो कितना भाग बचेगा तो इसका जवाब है,  2/3  भाग जिसे शाब्दिक याा साधारण भाषा में  दो तिहाई   भाग कहेगें । इसी प्रकार ( एक बटा तीन ) 1 / 3 को एक तिहाई  कहेंगे।  चलिए अब जानते हैं इनको जोड़ने, घटाने, गुणा और भाग   करने के तरीीकों के बारे में पुरी जानकारी।                                  भिन्नों का जोड़ , घटाना , गुणा और भाग; इस पोस्ट में आपको सब सीखने को मिलेगा। अगर आपके पास कोई सवाल है भिन्नों को हल करने या किसी भी तरह की भिन्न हो तो हमें निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिखकर भेज दें । भिन्न क्या है ? What is the Fraction ?     भिन्न एक आंशिक भाग होती है जो दो भागों से बनती है - अंश  हर  जैसे -     1 / 3 , जिसमें 1 अंश और 3 हर है । a / b में " a  " अंश और " b  " हर है। आज के दौर में बहुत - से लोग ऐसे हैं जो पढ़ - लिखकर भी भिन्न हल करना नहीं जानते हैं । इस कमी का आभास उन्हें तब होता है जब वो कोई काम करने लगते हैं और काम या कार्य में

फोन हमेशा क्यों व्यस्त बताता है.. ?

फोन हमेशा क्यों व्यस्त बताता है ?         मोबाइल फोन का इस्तेमाल आज इतना बढ़ गया है कि लगभग हर घर में यह अनिवार्यरूप से मिल ही जायेगा। इसका मुख्य कारण है भाग - दौड़ भरी जिंदगी। इसीलिए मोबाईल तो अनिवार्य रूप से आज के समय में चाहिए ही चाहिए। ऐसे में मोबाइल का से बात न हो पाना मोबाईल के उपयोग का मतलब ही नहीं रह जाता है  ।  अगर बार - बार यानी किसी  भी समय जब काॅल करते हैं और हर बार व्यस्त बता रहा है तो संभव है कि आपका नंबर ब्लाॅक  किया गया है। चलिए इसके बारे में जानते हैं कि विस्तार से ।  मोबाइल क्यों हमेशा व्यस्त बताता है इसके कई कारण होते हैं जो निम्नलिखित हैं -   नम्बर ब्लाॅक किया गया हो सकता है। नेटवर्किंग समस्या  नम्बर ब्लाॅक 🚫 होना क्या है ? मोबाइल नम्बर ब्लाॅक होने का मतलब यह है कि अगर आपका नम्बर किसी कारण से ब्लाॅक हो गया है या किसी ने जानबूझकर आपके नम्बर को ब्लॉक कर दिया है तो आप चाहे जितनी बार भी उस नम्बर पर कॉल  (  call  ) कर लो पर काॅल हमेशा व्यस्त  📞  ( Busy  ) ही बतायेगा। आपको फोन पे Ring ( घण्टी   ) बजते हुए सुनाई देगी पर जिस नम्बर पर आप फोन /
Disclaimer | Privacy Policy | About | Contact | Sitemap | Back To Top ↑
© 2017-2021 Possibilityplus