सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

दिसंबर 3, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

भिन्न और संख्याओं की जानकारी

नमस्कार दोस्तों मैं इस पोस्ट में बहुत अच्छी जानकारी देने जा रहा हूँ। इसमें आप भिन्न के बारे में A to Z जानकारी पाने वाले हैं। भिन्न के बारे में जानने से पहले हम संख्याओं के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों देख लेते हैं।





संख्याएं (Numbers)
संख्याओं को दर्शाने की कई प्रणालियाँ हैं। इन प्रणालियों में सबसे अधिक प्रचलित प्रणाली दाशमिक प्रणाली है जिसे हिन्दू-अरेबिक संख्याकन पद्धति भी कहते हैं। इस प्रणाली के अंतर्गत किसी संख्या को दर्शाने के लिए हम चिह्न/संकेतों (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8 और 9) का उपयोग करते हैं जिन्हें अंक कहते हैं। इन्हीं दस अंकों का उपयोग हम किसी संख्या को दर्शाने के लिए करते हैं। इसलिए ये अंक बहुत प्रचलित हैं। 









संख्याओं के प्रकार







संख्याएँ निम्नलिखित प्रकार की होती हैं - 

प्राकृत संख्याएँ: वस्तुओं को गिनने के लिए जिन संख्याओं का प्रयोग किया जाता है, उन संख्याओं को गणन संख्याएँ या प्राकृत ‘संख्याएँ’ कहते हैं। जैसे- 1, 2, 3, 4, 5, ………..

पूर्ण संख्याएँ:प्राकृत संख्याओं में शून्य को सम्मिलित करने पर जो संख्याएँ प्राप्त होती हैं उन्हें ‘पूर्ण संख्याएँ’ कहते हैं। जैसे- 0, 1, 2, …
Disclaimer | Privacy Policy | About | Contact | Sitemap | Back To Top ↑
© 2017-2020. Possibilityplus